शेयर बाजार: सेंसेक्स पहली बार 36000 के पार, निफ्टी भी 11000 से ऊपर, जानें उछाल की वजह

मंगलवार को शेयर बाजार में फिर से ऐतिहासिक उछाल देखने को मिला। निफ्टी पहली बार 11 हजार के पार पहुंचा जबकि सेंसेक्स 150 अंकों की बढ़त के साथ खुला। सेंसेक्स  ने 36 हजार के आंकड़े को पार कर लिया है। बाजार एक्सपर्ट्स की मानें शेयर बाजार में उछाल के कई वजहें हैं।

ब्रोकरों ने कहा कि वैश्विक स्तर पर सकरात्मक रुख, विदेशी पूंजी प्रवाह और एक फरवरी को बजट से पहले निवेशकों की ओर से सौदे बढ़ाने से बाजार नयी ऊंचाई पर पहुंच गया है।

सेंसेक्स और निफ्टी को नयी ऊंचाई पर ले जाने में टाटा स्टील, इंफोसिस, डॉ. रेड्डीज, महिंद्रा एंड महिंद्रा, ओएनजीसी, एसबीआई, भारती एयरटेल, कोल इंडिया, रिलायंस इंडस्ड्रीज, सन फार्मा, आईटीसी लिमिटेड, एक्सिस बैंक, एचडीएफसी लिमिटेड, एनटीपीसी और एल एंड टी के शेयरों ने बड़ी भूमिका निभाई।

 ये हैं वजहें

पहली वजह तीसरी तिमाही में घरेलू कंपनियों के अच्छे लाभ से बाजार के हालात में सुधार आया है। इससे विदेशी और घरेलू निवेशकों का कारोबार भारतीय शेयरों में बढ़ा है। इससे बाजार में लिक्विडिटी भी बढ़ी है।

इसके अलावा हाल ही में सरकार ने चुनिंदा सामानों पर जीएसटी रेट में कटौती की है। इससे सरकार पर निवेशकों का भरोसा बढ़ा है।

अमेरिकी सांसदों में शटडाउन को खत्म करने पर समझौता होने से सोमवार को अमेरिकी शेयर बाजारों में अच्छी तेजी देखने को मिली। इसका सकारात्मक संकेत रहा है।

दूसरी तरह एशियाई बाजारों में भी तेजी देखने को मिल रही हैं। सिंगापुर का एसजीएक्स निफ्टी सूचकांक ने भी पहली बार 11000 के स्तर को पार किया है। एशियाई बाजारों में मजबूती से घरेलू बाजार में तेजी आई है।

इंटरनेशनल मॉनिटेरी फंड (आईएमएफ) की वर्ल्ड इकनॉमिक आउटलुक रिपोर्ट के मुताबिक, 2018 में भारत की विकास दर 7.4% जबकि 2019 के लिए 7.8% रहने का अनुमान है।

सिर्फ चार दिनों में एक हजरा प्वाइंट चढ़ा सेंसेक्स

बाजार में तेजी के बीच सेंसेक्स को 36 हजार के स्तर तक पहुंचने में सिर्फ 4 दिन लगे। सबसे पहले 17 जनवरी को सेंसेक्स ने पहली बार 35 हजार के लेवल पर पहुंचा था। 23 जनवरी को सेंसेक्स 36 हजार के लेवल को पार कर गया।

इससे पहले सोमवार को बंबई शेयर बाज़ार का सेंसेक्स 286.43 अंक चढ़कर 35,798.01 अंक पर पहुंच गया। जबकि, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 10,966.20 अंक के नए रिकॉर्ड पर बंद हुआ था। ऐसा माना जा रहा है कि उम्मीद से बेहतर तिमाही नतीजों और केन्द्र सरकार के हालिया उपायों चलते जैसे कुछ क्षेत्रों के लिए माल एवं सेवा कर (जीएसटी) दर में कटौती से शेयर बाजारों में रिकॉर्डतोड़ तेजी का सिलसिला जारी है।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 10,975.10 अंक के दिन के नए रिकॉर्डस्तर को छूने के बाद अंत में 71.50 अंक या 0.66 प्रतिशत के लाभ से 10,966.20 अंक के नए रिकॉर्ड पर हुआ। इससे पहले शुक्रवार को निफ्टी 10,894.70 अंक की नई ऊंचाई पर बंद हुआ था।

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स सोमवार को मजबूत रुख से खुलने के बाद 35,827.70 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर तक गया था। हालांकि, मुनाफावसूली से यह कुछ नीचे आया। अंत में सेंसेक्स 286.43 अंक या 0.81 प्रतिशत के लाभ से 35,798.01 अंक के नए रिकॉर्डस्तर पर बंद हुआ। इससे पहले शुक्रवार को सेंसेक्स ने 35,511.58 का रिकॉर्ड बनाया था। इससे पिछले तीन सत्रों में सेंसेक्स 740. 53 अंक चढ़ा है।

Facebook Comments